top of page

विश्व कैंसर दिवस - आखिर कैसे बचें इस महामारी से




कैंसर एक बहुत खतरनाक बीमारी है और लोगो को कैंसर जैसी बीमारी के बारे में अवगत कराने के लिए “विश्व कैंसर दिवस” हर साल 4 फरवरी को मनाया जाता है | कैंसर एक स्वस्थ शरीर को धीरे-धीरे खत्म कर देता है| कैंसर की अलग-अलग स्टेज होतीं हैं जिनके जरिये डॉक्टर कैंसर के मरीज का इलाज सुनिश्चित करते हैं|कैंसर से बचने के बहुत से तरीके होते हैं जिनके बारे में बहुत लोग जानते भी हैं फिर भी उन्हें अपनाते नहीं हैं और लोगों को कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी के प्रति जागरूक करने के लिए विश्व कैंसर दिवस मनाया जाता है|


विश्व कैंसर दिवस की शुरुआत विश्व में कैंसर के प्रति जागरुकता और इसके बचाव के तरीकों के बारें में अधिक से अधिक लोगों को परिचित कराने के लिए हुई थी. साल 2006 में पहली बार विश्व कैंसर दिवस मनाया गया था I


कैंसर के लक्षण

· लंबे समय तक गले में खराश होना

· लगातार खांसी आना

· आहार निगलने में रुकाव होना

· शरीर में गठान पड़ना

· कहीं से भी पानी या रक्त बहाव होना


कैंसर के कारण

कैंसर कई प्रकार के‍ होते हैं उनके अलग अलग कारण होते हैं यदि आप किसी गंभीर बीमारी के लिए दवा ले रहे हैं तो इन दवाओं के साइड इफेक्ट्स (Side Effects) के कारण भी आपको कैंसर हो सकता है लेकिन कुछ कारण ऐसे हैं जिनकी वजह से आपको कैंसर जैसी बीमारी हो सकती है जैसे –

· धूम्रपान करना

· अधिक बजन होना

· पौष्टिक आहार ना लेना

· तंबाकू चबाना

· व्यायाम ना करना

· कैंसर के लक्षण




कैंसर का इलाज

कैंसर का पता बायोप्सी नामक टेस्ट से चलता है. कैंसर का पता लगाने के बाद जो इलाज किया जाता है, उसमें कीमोथेरेपी प्रमुख है| कीमोथेरेपी कैंसर के असर को कम करने के लिए दी जाती है| उदाहरण के लिए अगर कैंसर चौथी स्टेज पर हो तो यह थैरेपी इसे दूसरी स्टेज पर ले आती है| यह हर तरह के कैंसर में नहीं दी जा सकती| इसी तरह रेडियोथेरेपी शरीर में कैंसर के ऊतकों को कम करने के लिए दी जाती है|


डॉक्टर मानते हैं कि कैंसर ठीक हो सकता है बशर्ते इसका डटकर सामना किया जाए. हमें इससे डरना नहीं चाहिए. कैंसर पर विजय हासिल करने में इन सुझावों पर ध्यान दें:

* जांच होने के बाद कैंसर के उपचार का पहला अवसर ही सर्वश्रेष्ठ अवसर हैI इस अवसर को गंवाना जानलेवा हो सकता हैI

* निकट के कैंसर संस्थान का ही चयन करें, ताकि आप लम्बे इलाज के लिए आवश्यकतानुसार समय-समय पर अपने विशेषज्ञ के पास पहुंच सकेंI

* कैंसर विशेषज्ञ की ही बातों पर अमल करेंI गैर-जानकार व्यक्ति की सुनी-सुनाई बातों को सुन आप भ्रमित हो सकते हैंI

* बॉयोप्सी जांच से कैंसर फैलता नहीं है I इस गलत धारणा के कारण बहुत से लोग अपना उपचार समय से न कराकर मर्ज बढ़ा लेते हैं I बॉयोप्सी से ही कैंसर के प्रकार व संभावित उपचार का निर्धारण होता हैI

* कैंसर विशेषज्ञ से रोग की वार्षिक जांच कराते रहने से रोग का प्रारंभिक अवस्था में पता चल जाता है I प्रारंभिक अवस्था में अधिकांश कैंसर पूरी तरह से ठीक हो जाते हैं, बशर्ते आप पूरी तरह से मन लगाकर उपचार में जुट जाएंI


कैंसर की रोकथाम के कुछ उपाय:

* सिगरेट व शराब का सेवन कम करें इनसे फेफड़ों, सिर व गले के कैंसर का खतरा हो सकता है I

* ज्यादा तला भुना व वसा युक्त भोजन कम खाएं, इससे ब्रेस्ट व प्रोस्ट्रेट कैंसर का खतरा होता है I

* स्वस्थ रहने के लिए रोज व्यायाम करें I

* फेफड़ो के कैंसर से बचने के लिए किसी भी प्रकार के केमिकल्स से दूर रहें I

* अपने जीवनसाथी के प्रति वफादार रहें I

* गर्मियों के मौसम में सूरज की किरणों के संपर्क में आने से बचें, ऐसा करके आप स्किन कैंसर से बच सकते हैं I

* अपनी सुरक्षा के लिए ब्रेस्ट व प्रोस्ट्रेट कैंसर से बचने के लिए कुछ रेगुलर चेकअप कराते रहें I


विश्व को कैंसर मुक्त करने के लिए आप भी कदम बढ़ाएं और खुद तथा अपने सगे सबंधियों को तंबाकू, सिगरेट, शराब आदि से दूर रहने की सलाह दीजिए I





3 views0 comments

Σχόλια


bottom of page